आपदा की इस घड़ी में गरीब को भी भोजन कराएं - गणाचार्य

Slider

भिंड - जिले में लॉकडाउन को लगे हुए 28 दिन गुजर चुके हैं। ऐसे में सबसे अधिक परेशानी में वे लोग हैं जो आर्थिक रुप से मजबूत नहीं हैं। इसलिए मेरा सकल जैन समाज के लोगों से कहना है कि इस आपदा की घड़ी में अपने साथ गरीबों को भी भोजन कराएं, क्योंकि यह अवसर भगवान ने आप लोगों को प्रदान किया है इसको जाने न दें। उक्त वचन सोमवार को जैन चैत्यालय मंदिर में  । शहर का अधिकांश सकल जैन समाज आर्थिक रुप से मजबूत है, इसलिए समाज के लोगों से मेरा एक बार फिर से आव्हान है कि वे गरीबों की मदद के लिए आगे आएं। गणाचार्य ने कहा कि शाकाहारी भोजन करने से जहां कई बीमारियों से बचा जा सकता है वहीं शरीर भी स्वस्थ रहता है। इसलिए शाकाहारी भोजन करने के साथ लोगों को मन भी भी शाकाहारी बनना चाहिए, यानि हमें अपना मन ऐसा बनाकर चलना चाहिए जिसमें सिर्फ दूसरों की मदद के विचार आएं साथ ही किसी का बुरा न सोचें। इसके अलावा मैं पिछले कुछ दिनों से लगातार लोगों से लॉकडाउन का पालन करने की अपील करता आ रहा हूं, उसके बाद भी देखने में आ रहा है, कि लोग शासन के नियम का पालन नहीं कर रहे हैं। शासन द्वारा यह लॉकडाउन आप लोगों की सुरक्षा के लिए लगाया गया है। अगर हम कुछ दिन इस नियम का पालन कर लेंगे, तो इस कोरोना महामारी को हमेशा के लिए खत्म कर सकते हैं।


Comment






Total No. of Comments: