सर्वाधिक चातुर्मास करने वाली गणिनी श्री ज्ञानमती माताजी का वर्षायोग ऋषभदेवपुरम् तीर्थ पर

Breaking News

सर्वोच्च जैन साध्वी गणिनीप्रमुख श्री ज्ञानमती माताजी ने इस वर्ष पावन वर्षायोग करने की घोषणा ऋषभदेवपुरम् तीर्थ (मांगीतुंगी) में की है। पूज्य माताजी का 66वाँ वर्षायोग स्थापना समारोह आषाढ़ शुक्ला चतुर्दशी, 26 जुलाई 2018, गुरुवार को मध्यान्ह 3 बजे ऋषभदेवपुरम् तीर्थ पर आयोजित किया गया है तथा वर्षायोग की आगमोक्त क्रिया रात्रि 9 बजे सम्पन्न होगी।

पूज्य माताजी वर्तमान समय में सर्वाधिक चातुर्मास करने वाली सर्वप्राचीन दीक्षित आर्यिका माता हैं। इस वर्ष आपका 66वाँ वर्षायोग विशेष भक्तिभाव के साथ भगवान ऋषभदेव  108 फुट विशालकाय दिगम्बर जैन मूर्ति निर्माण कमेटी द्वारा ऋषभदेवपुरम् तीर्थ पर सम्पन्न किया जा रहा है।


Comment






Total No. of Comments: